ज़िंदगी थमती नही ……

ज़िंदगी थमती नही …
किसी के जाने से …
महज़ अरमान बदल जाते है …
किसी के यूं खो जाने से ………

हां यह सच है …
ज़िंदगी हसीन होजाती है …
दुआ कुबूल होजाने से …

पर कश्ती डग-मगा जाती है …
किसी अपने के सो जाने से …

कहने को तो …
सिर्फ एक इंसान जाता है हमे छोड़ कर …
पर
बेजान होजती है ज़िंदगी
मा बाप के खो जाने से …

काश…
हम भी कही खो जाए…
कही दूर …
अपनो के जाने से …

पर ज़िंदगी का दस्तूर ही यही है …
ज़िंदगी थमती नही किसी के जाने से …

image

Yogesh Ojha

19 year old student, Yogesh S/O Late Mr. Shambhudayal Ojha is now an International Author with mass readership over 185 countries.. Being a national winner in sketching and story writing,Currently he is conducting his research across 20 countries for his upcoming novels.. A number of sad, romantic and emotional songs along with 10000 poems are the part of his creations. Also he is a motivational speaker and counsellor .. According to him " If you wanna be alive even after your death.. Either write something or do something which could be written "

No comments:

Post a Comment

Thank-you for your Support :)))))

Follow @ Instagram